Adani Group plans फाइव स्टार होटल के साथ इन पर फोकस

Adani Group plans फाइव स्टार होटल के साथ इन पर फोकस

Adani Group plans अपने एयरोनॉटिकल और नॉन-एरोनॉटिकल (टर्मिनल) ऑपरेशंस के अलावा देश में अपने एयरपोर्ट्स के साथ-साथ रियल एस्टेट प्रोजेक्ट्स विकसित करने की भी योजना है। ईटी की खबर के मुताबिक, अडानी एयरपोर्ट्स ने अपने शहर के विकास पोर्टफोलियो के तहत अपने सभी हवाई अड्डों पर 500 एकड़ से अधिक भूमि पर लगभग 70 मिलियन वर्ग फुट विकसित करने की योजना बनाई है।

रॉकेट बन गए Adani Group shares आज 16% तक की आई तेजी

ये “एयरो सिटीज” होटल, कन्वेंशन सेंटर, रिटेल, एंटरटेंमेंट और हेल्थ सर्विस ऑप्शन, लाॅजिस्टिक, कार्मिशियल ऑफिसेस और अन्य रियल एस्टेट सेगमेंट का मिश्रण होंगे। सूत्रों के मुताबिक, कंपनी इस योजना के तहत होटल विकसित करने के लिए मैरियट इंटरनेशनल, इंटरकांटिनेंटल होटल्स ग्रुप (IHG) और हिल्टन जैसी हॉस्पिटैलिटी चेन के साथ शुरुआती बातचीत कर रही है।

Adani Group plans five star hotel

Adani Enterprises
Adani Enterprises Adani Group plans

हालांकि, इस मामले पर अडानी समूह की तरफ से कोई जवाब नहीं आया। एक ईमेल के जवाब में मैरियट इंटरनेशनल ने इस मामले पर ‘अभी’ टिप्पणी करने से इनकार कर दिया। आईएचजी ने कहा कि कंपनी दुनिया भर में विभिन्न रणनीतिक साझेदारों के साथ नियमित संपर्क में है और इसके बारे में अटकलों पर टिप्पणी नहीं कर सकती है।

Adani Group plans

बता दें कि अडानी एयरपोर्ट्स के पोर्टफोलियो में मुंबई, जयपुर, अहमदाबाद के एयरपोर्ट शामिल हैं। कंपनी हवाईअड्डे के अंदर और बाहर ग्राहकों के लिए ‘लाइफस्टाइल डेस्टिनेशन’ बनाना चाहती है।

Simple-and-smart-way-to-start-Investing
Simple-and-smart-way-to-start-Investing

 

अगर आपको इस पोस्ट में कुछ अच्छा या समाज नहीं आता है तो निचे कमेंट में हमें बताइये

बता दें कि इस साल मई में, अडानी एंटरप्राइजेज लिमिटेड की पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक कंपनी अडानी एयरपोर्ट होल्डिंग्स लिमिटेड (AAHL) ने इस साल मई में स्टैंडर्ड चार्टर्ड बैंक और बार्कलेज बैंक पीएलसी के संगठन से 250 मिलियन अमेरिकी डॉलर की सीनियर सिक्योर्ड 3-वर्षीय ईसीबी सुविधा के वित्तपोषण को सफलतापूर्वक प्राप्त करने की घोषणा की है।

कंपनी ने तब कहा था कि इस सुविधा के पास अतिरिक्त 200 मिलियन अमेरिकी डॉलर जुटाने का विकल्प है। AAHL हवाई अड्डे Top-10 घरेलू मार्गों में से 50%, कुल भारतीय हवाई यातायात का 23% और भारत के 30% हवाई कार्गो को कंट्रोल करते हैं।

 

Leave a Reply