Reliance and Amazon के फाउंडर मुकेश अम्बानी की हरकतों से परेशान मांगी कोर्ट से मदद

Reliance and Amazon मुकेश अम्बानी की हरकतों से परेशान मांगी कोर्ट से मदद

भारत के 900 अरब डॉलर के रिटेल सेक्टर में दबदबा कायम करने के लिए दुनिया की सबसे बड़ी ई-कॉमर्स कंपनी ऐमजॉन (Amazon) और रिलायंस इंडस्ट्रीज (Reliance Industries) के बीच घमासान चल रहा है।

देश की सबसे बड़ी रिटेलर रिलायंस ने हाल में रातोंरात फ्यूचर रिटेल (Future Retail) के कई स्टोर्स (Big Bazar) का नियंत्रण अपने हाथ में ले लिया था। कंपनी ने अपनी इस कार्रवाई को सही ठहराते हुए कहा है कि फ्यूचर के भविष्य और उसके साथ अपनी डील को बचाने के लिए उसे यह कदम उठाना पड़ा।

amazon future group
amazon future group

कर्ज में डूबे किशोर बियाणी की कंपनी फ्यूचर ग्रुप के रिटेल बिजनस पर कब्जे के लिए रिलायंस और एमेजॉन के बीच पिछले कई महीने से कानूनी जंग चल रही है।

रिलायंस ने 25 फरवरी की रात अचानक फ्यूचर ग्रुप के कई स्टोर्स का नियंत्रण अपने हाथ में ले लिया था। कंपनी का कहना था कि इन स्टोर्स के लीज का भुगतान नहीं किया गया था। रिलायंस की इस हरकत ने फ्यूचर को ही नहीं बल्कि ऐमजॉन को भी सकते में डाल दिया था।

Leave a Reply