अडानी समूह ने 23 अगस्त को एनडीटीवी में परोक्ष रूप से 29.18 प्रतिशत हिस्सेदारी के अधिग्रहण की घोषणा की थी।

 यह अधिग्रहण वीसीपीएल के जरिये किया गया जिसकी आरआरपीआर में 99.99 प्रतिशत हिस्सेदारी है।

अडानी समूह द्वारा मीडिया हाउस NDTV के अधिग्रहण की डील में आयकर विभाग की एंट्री हुई है।

दरअसल, NDTV की प्रमोटर कंपनी आरआरपीआर होल्डिंग ने वीसीपीएल से कहा है कि उसकी एनडीटीवी में हिस्सेदारी को

आयकर विभाग ने अस्थायी तौर पर कुर्क कर रखा है और उसके हस्तांतरण के लिए उनकी मंजूरी जरूरी है।

वीसीपीएल ने अडानी समूह की दो अन्य कंपनियों के साथ एनडीटवी के अधिग्रहण को लेकर कदम उठाए हैं।

आरआरपीआर की इस दलील को अडानी समूह ने खारिज करते हुए ‘गलत’ और ‘भ्रामक’ बताया है।

एनडीटीवी के मुताबिक आरआरपीआर होल्डिंग ने अडानी समूह की कंपनी विश्वप्रधान कमर्शियल प्राइवेट लि को सूचित किया है

गौतम अडानी समूह की प्रमुख कंपनी है। यह अडानी समूह की दूसरी कंपनी होगी जो निफ्टी 50 इंडेक्स में शामिल होगी।

ज्यादा जानो