फ्यूचर रिटेल लिमिटेड ने बुधवार को कहा कि वह रिलायंस रिटेल से स्टोरों को वापस लेने के लिए प्रतिबद्ध है,

जिनका रिलायंस ने अधिग्रहण कर लिया है। फ्यूचर रिटेल ने यह भी कहा है कि वैल्यू एडजस्टमेंट के लिए आवश्यक सभी कार्यवाही भी करेगी।

किशोर बियानी के नेतृत्व वाली फर्म ने यह भी कहा कि रिलायंस समूह की कार्रवाई कंपनी के लिए "आश्चर्य" की तरह है।

इसके अलावा कंपनी ने कहा है कि इसके स्टोरों का अधिग्रहण करने की कार्रवाई ने सकारात्मक परिदृश्य को "जटिल" कर दिया है,

जो दिसंबर 2021 में सीसीआई के आदेश के बाद बनना शुरू हो गया था।

फरवरी में, रिलायंस रिटेल ने एफआरएल के कम से कम 300 स्टोरों का संचालन संभाला कर अपने कर्मचारियों को नौकरी की पेशकश की थी।

तब किशोर बियानी के नेतृत्व वाला समूह लैंडलॉर्ड्स को लीज का भुगतान करने में विफल रहा था।

एफआरएल के अनुसार, ऐसी कई मीडिया रिपोर्टें और सार्वजनिक नोटिस जारी किए गए हैं जिनमें अमेजन ने गलत रिपोर्टिंग की है